राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था टोहाना, फतेहाबाद
x

ITI संस्थान के विभिन्न भागों का भ्रमण एवं अवलोकन

ITI संस्थान की वर्कशॉप में आधुनिक तकनीकों (modern techniques) से प्रयुक्त मशीनें एवं उपकरण उपयोग में लिए जाते हैं । इन मशीनों एवं उपकरणों का अध्ययन अति आवश्यक है, जिससे मशीनों को खराब होने से एवं किसी दुर्घटना से बचाया जा सके । ITI संस्थान (ITI Institute) के कुछ भागों का वर्णन निम्न प्रकार है-

  1. इलैक्ट्रिकल वर्कशॉप सेक्शन ( Electrical Workshop Section ) : इस प्रकार की वर्कशॉप में सभी प्रकार की डी.सी. एवं ए.सी. मोटरें , ट्रांसफॉर्मर , डी.सी. एवं ए.सी. मशीन वाइन्डिंग , विद्युतीय मापन यंत्र , इलैक्ट्रिकल वायरिंग आदि के बारे में अध्ययन किया जाता है ।
  2. इलैक्ट्रॉनिक वर्कशॉप सेक्शन ( Electronic Workshop Section ) : इस प्रकार की वर्कशॉप में सभी प्रकार के इलैक्ट्रॉनिक टेस्ट उपकरण जैसे- कैथोड रे ऑसिलेटर , प्लस जनरेटर , सिंगल ट्रेक वी.एच.टी. टीवी , एल.सी.आर. ब्रिज डिजिटल मल्टीमीटर , और कलर टी.वी. पैर्टन जनरेटर आदि के बारे अध्ययन किया जाता है।
  3. फिटर वर्कशॉप सेक्शन ( Fitter Workshop Section ) : इस प्रकार के वर्कशॉप में बहुत से औजारों का प्रयोग करते हुए निम्नलिखित ऑपरेशन प्रशिक्षणार्थियों द्वारा सम्पादित किए जाते हैं जो निम्नलिखित हैं हैक्साईंग, फाईलिंग, मार्किंग, ड्रिलिंग, टेपिंग, चिपिंग, ग्राइण्डिंग, रीमिंग, थ्रेडिंग, रिवेटिंग, कटिंग, लेथ ऑपरेशन, फिटिंग, फीनिशिंग, सोल्डरिंग, स्क्रेपिंग, वैल्डिंग, ब्लैक स्मिथी, ऊष्मा उपचार, इत्यादि । इनके अलावा प्रशिक्षणार्थियों द्वारा मशीनों को खोलना , फिट करना, रिपेयर करना, ऑयलिंग, ग्रीसिंग इत्यादि कार्य किए जाते हैं ।
  4. कम्प्यूटर वर्कशॉप सेक्शन ( Computer Workshop Section ) : इस प्रकार की वर्कशॉप में लेपटॉप , पेंटियम कम्प्यूटर , इनजेक्ट , लेजर और डाट मैट्रिक्स प्रिंटर्स और सॉफ्टवेयर होते हैं । अलग – अलग वर्कशॉप में उपस्थित सभी सिस्टम को लेन के द्वारा जोड़ा जाता है । इस वर्कशॉप में ऑपरेटिंग सिस्टम तथा अलग – अलग भाषाएं जैसे ce आदि के बारे में अध्ययन किया जाता है।
  5. ऑटोमोबाइल वर्कशॉप सेक्शन ( Automobile Workshop Section ) ; इस प्रकार की वर्कशॉप में सभी प्रकार के उपकरण जैसे- कंप्रेसर , हाइड्रोलिक जैक , इत्यादि के बारे में अध्ययन किया जाता है तथा इस वर्कशॉप में ऑटोमोबाइल से संबंधित सभी वाहनों जैसे बस , ट्रक , आदि के बारे में भी अध्ययन किया जाता है।
  6. टर्नर वर्कशॉप सेक्शन ( Turner Workshop Section ) : इस प्रकार की वर्कशॉप में CNC टर्निंग मशीन , सामान्य उद्देश्य के लिए लेथ , पावर हेक्सा पेडेस्टल ग्राइण्डर आदि के बारे में अध्ययन किया जाता है।
  7. टूल एवं डाई मेकर वर्कशॉप सेक्शन ( Tool and Die Maker Workshop ) : इस प्रकार की वर्कशॉप में सभी प्रकार की मशीनें तथा उसमें उपस्थित टूल जैसे- मिलिंग मशीन , सभी प्रकार के लेथ ग्राइण्डर , ड्रिलिंग मशीन आदि के बारे में अध्ययन किया जाता है।
  8. मशीनिस्ट ग्राइण्डर वर्कशॉप सेक्शन ( Machinist Grinder Workshop Section ) : इस प्रकार की वर्कशॉप में सभी प्रकार की ग्राइन्डर मशीनें , टूल एवं कटर , HMT विक्रम लेथ मशीनें आदि के बारे में अध्ययन किया जाता है।
  9. मशीनिस्ट ( कम्पोजिट ) वर्कशॉप सेक्शन ( Machinist ( Composite ) Workshop Section ) : इस प्रकार की वर्कशॉप में सभी प्रकार की मशीनें जैसे मिलिग, लेथ, ड्रिलिंग, पावर हेक्सा, ग्राइन्डर आदि के बारे में अध्ययन किया जाता है।

क्या आईटीआई सरकारी नौकरी के लिए अच्छा है?

सरकारी और निजी नौकरी करने के लिए आईटीआई कोर्स बहुत ही बेहतरीन हैं। आजकल ज्यादातर छात्र इलेक्ट्रीशियन, फिटर, टर्नर कोर्स करना चाहते हैं

iti online mock test

2 thoughts on “ITI संस्थान के विभिन्न भागों का भ्रमण एवं अवलोकन

Leave a Reply

Your email address will not be published.