1. Home
  2. /
  3. Others
  4. /
  5. लेथ मशीन पर चूड़ी काटना (Lathe Machine)

लेथ मशीन पर चूड़ी काटना (Lathe Machine)

दोस्तों, आप लोग इस समय टर्नर ट्रेड से आईटीआई कर रहे होगे या आप किसी वर्कशॉप में लेथ मशीन के बारे में सीखने आए होगे। इसलिए आपको लेथ मशीन पर चूड़ी काटने के बारे में जानकारी प्राप्त करनी है तो आपको इस पोस्ट के माध्यम से यह जानकारी प्राप्त होगी।

लेथ मशीन पर चूड़ी काटना

लेथ पर चूड़ी काटने के लिए सबसे पहले जॉब को एक आवश्यक साइज का तैयार किया जाता है। इसके बाद थ्रेड कटिंग टूल कि उपयोग करके चूड़ी काटी जाती हैं।

Lathe Machine पर चूड़ी काटने से पहले जॉब को लेथ चक पर बांधकर जॉब के दाईं ओर के सिरे पर, जहां पर चूड़ी काटनी शूरू करनी है, उसे चैम्फर कर लेना चाहिए अर्थात् सिरे को हल्का टेपर कर लेना चाहिए। जिससे जॉब पर नट को कसते समय नट की चूड़ी व बोल्ट की चूड़ी आसानी से एक-दूसरे पर चढ़ सकें।

20211028 071540
Thread Cutting

इसके बाद Lathe की स्पीड पर ध्यान देना चाहिए। लेथ की स्पीड ट्रर्निंग की स्पीड की अपेक्षा एक-चौथाई रखनी चाहिए। इससे चूड़ी अच्छी बनेंगी। चूड़ी काटने समय आवश्यकतानुसार उपयुक्त कटिंग स्पीड के लिए लेथ स्पिण्डल की चाल (Speed) सैट करें।

चूड़ी के पिच के अनुसार, चेंज गियरों का चुनाव कर उन्हें मशीन में निर्धारित स्थान पर लगाएं। यदि मशीन में चेंज गियर बॉक्स लगा है, तब सैटिंग लीवर को इण्डेक्स प्लेट में प्रदर्शित की गई स्थित में सैट करें। इसके बाद कम्पाउण्ड रैस्ट को Clockwise घुमाकर Cross-Slide पर 30° पर सैट करना होगा।

इतना काम हो जाने के बाद आपको यह भी ध्यान देना है, कि हमें जॉब पर किस प्रकार की चूड़ी काटनी है। इसके लिए चूड़ु के प्रकार के अनुसार उचित कोण व आकार के टूल को चुनना चाहिए। टूल को उपयोग में लाने से पहले सेंटर गेज की सहायता से टूल के कोण की जांच अवश्य कर लें। टूल के हिसाब से टूल होल्डर का सलेक्शन करना चाहिए। जिससे टूल को आसानी से होल्डर में मजबूती से पकड़ा जा सके।

इतना काम होने के बाद टूल को टूल होल्डर में लगाना चाहिए। जिसके बाद टूल होल्डर को लेथ मशीन के टूल पोस्ट में लगाना चाहिए और टूल को इस प्रकार Adjust करें कि टूल (Tool) का कटिंग प्वॉइंट ठीक लेथ सेंटर की ऊंचाई में हो और जॉब की अक्ष के ठीक समकोण (Right Angle) पर हो। टूल (Tool) को सही सैट करने के लिए सेंटर गेज को जॉब की टर्न सतह पर रखें।

इसके बाद क्रॉस स्लाइड को चलाकर टूल के आगे लाकर सेंटर गेज के ‘V’ ग्रूव में फिट करें। यदि सही फिट हो जाता है तब टूल समकोण पर सही सैट हो चुका है। इसके बाद लेथ की ऑटोमैटिक फीड हटा दें तथा फीड रिवर्स हैण्डिल को न्यूट्रल स्थिति में ले आएं।

अब चूड़ी काटने वाले टूल के प्वॉइंट को जॉब से स्पर्श कराएं तथा क्रॉस स्लाइड के स्पिण्डल पर लगे चिन्हित डायल शून्य पर सैट करें। इसके बाद टूल को जॉब की दाईं ओर ले जाएं तथा स्पिण्डल को निर्धारित चाल पर घुमाएं तथा टूल को हल्की फीड दे दें।

चूड़ी काटते समय यदि काटे जाने वाली चूड़ी की संख्या लीड स्क्रू की संख्या का गुणज है, तो हॉफ नट को किसी भी बिंदु पर एंगेज किया जा सकता है।

चूड़ी के अनुसार, यदि थ्रेड चेंजिंग डायल का उपयोग करना हो तो चुनी हुई लाइन जब इण्डेक्स लाइन की सीध में आ जाए तो हॉफ नट को लॉक कर दें अन्यथा बिना चेंजिंग डायल को ध्यान दिए हॉफ नट को लगाकर पहला ट्रायल कट लगाएं।

इसके बाद टूल को पीछे हटाकर उसकी प्रारम्भिक स्थिति में वापस ले जाएं तथा लेथ बंद करके चूड़ी के पिच को चैक करें। इसके लिए स्क्रू पिच गेज, स्टील रूल अथवा सेन्टर गेज की साइड में बने रूल का उपयोग किया जा सकता है। अब पहले कट की feed देकर lathe को चलाकर हाफ नट को लॉक करके पहला कट लगाएं। फीड को स्पिण्डल पर लगे डायल से पढ़ा जा सकता है। Feed टूल की धातु पर निर्भर करती है।

चूड़ी का पहला कट पूरा होते ही Cross Slide के हैण्डिल को तेजी से घुमाकर टूल पीछे हटा लेते हैं और टूल को प्रारम्भिक स्थिति में ले जाते हैं। प्रत्येक कट में फीड की मात्रा को कम करते हुए फीड देते रहते हैं तथा कट लगाते रहते हैं, जब तक कि पूरी गहराई की थ्रेड न बन जाए। इसके बाद चूड़ी की सफाई के लिए बहुत हल्का कट लगाकर स्मूथ थ्रेड्स बना लेते हैं तथा थ्रेड गेज से चैक कर लेते हैं। दोस्तों, इस तरह से लेथ मशीन पर चूड़ी काटते हैं।

Also Read- लेथ मशीन कटिंग टूल्स

Follow Me-

Leave a Reply

Your email address will not be published.