1. Home
  2. /
  3. Fitter course
  4. /
  5. Fitter science
  6. /
  7. विशिष्ट ऊष्मा किसे कहते हैं?

विशिष्ट ऊष्मा किसे कहते हैं?

दोस्तों, आईटीआई कोर्स डॉट कॉम में आपका स्वागत है, आज के पोस्ट में आपको विशिष्ट ऊष्मा किसे कहते हैं? इसके सूत्र व उदाहरण आदि के बारे में बताया है, यदि आप जानकारी पाना चाहते हो तो पोस्ट को पूरा पढ़िए।

विशिष्ट ऊष्मा किसे कहते हैं?

किसी वस्तु की विशिष्ट ऊष्मा, किसी वस्तु को गर्म करने के लिए दी गई ऊष्मा की मात्रा, वस्तु के द्रव्यमान तथा ताप-वृद्धि के अनुक्रमानुपाती होती है।

Vishist Ushma
(Specific Heat)

माना किसी वस्तु का द्रव्यमान m द्रव्यमान तथा वस्तु को Q कैलोरी ऊष्मा देने से उसके ताप में ∆t°C की वृद्धि हो, तो

Q = s × m × ∆t …… समीकरण (i)

जहां पर s एक नियतांक है, जिसका मान पदार्थ की प्रकृति पर निर्भर करता है। इसे पदार्थ की विशिष्ट ऊष्मा (Specific Heat) कहते हैं।

अतः समीकरण (i) से,
पदार्थ की विशिष्ट ऊष्मा s = Q/m×∆t …… समीकरण (ii)

यदि m = 1, ∆t = 1°C है तो S = Q

अतः किसी पदार्थ के 1, ग्राम द्रव्यमान का ताप 1°C बढ़ाने के लिए आवश्यक ऊष्मा की मात्रा को उस पदार्थ की विशिष्ट ऊष्मा (Specific Heat) कहते हैं।

समीकरण (ii) से,
विशिष्ट ऊष्मा का मात्रक = ऊष्मा का मात्रक/द्रव्यमान का मात्रक×तापक्रम का मात्रक

विशिष्ट ऊष्मा का मात्रक = कैलोरी/ग्राम°C
अतः विशिष्ट ऊष्मा का मात्रक कैलोरी/(ग्राम°C) है।

स्थिर आयतन पर विशिष्ट ऊष्मा

“स्थिर आयतन पर, किसी गैस के 1 ग्राम का द्रव्यमान का ताप 1°C बढ़ाने के लिए आवश्यक ऊष्मा की मात्रा को उस गैस की स्थिर आयतन पर विशिष्ट ऊष्मा कहते हैं।” इसको Cv से प्रदर्शित किया जाता है।

आयतन को स्थिर रखते हुए किसी गैस के एक मोल में 1°C तापमान (Temperature) बढ़ाने के लिए आवश्यक ऊष्मा की मात्रा को स्थिर आयतन पर मोलर विशिष्ट ऊष्मा (Specific Heat) कहते हैं।

स्थिर दाब पर विशिष्ट ऊष्मा

“स्थिर दाब पर, किसी गैस के 1 ग्राम का द्रव्यमान का ताप 1°C बढ़ाने के लिए आवश्यक ऊष्मा की मात्रा को उस गैस की स्थिर दाब पर विशिष्ट ऊष्मा कहते हैं।” इसको Cp से प्रदर्शित किया जाता है।

जब दाब को स्थिर रखा जाए तो गैस के एक मोल में 1°C तापमान बढ़ाने के लिए आवश्यक ऊष्मा की मात्रा को स्थिर दाब पर मोलर विशिष्ट ऊष्मा (Specific Heat) कहते हैं।

1.पानी की विशिष्ट ऊष्मा होती है?

विशिष्ट ऊष्मा = 1 कैलोरी/(ग्राम-°C)

2.बर्फ की विशिष्ट ऊष्मा

इसकी विशिष्ट ऊष्मा 80 कैलोरी/ग्राम है।

दोस्तों, यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो कमेंट करके बताएं और हमसे जुड़ने के लिए टेलीग्राम चैनल को ज्वाइन करें।

More Information:- ऊष्मा धारिता किसे कहते हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published.