1. Home
  2. /
  3. Wireman
  4. /
  5. टूल स्टील (Tool Steel) कितने प्रकार के होते हैं?

टूल स्टील (Tool Steel) कितने प्रकार के होते हैं?

Tool Steel का उपयोग उपकरण बनाने के लिए किया जाता है क्योंकि यह कठोर होती है, यह घर्षण के लिए प्रतिरोधी है।

इसके अलावा Tool Steel में उच्च तापमान पर अपना आकार बनाए रखने की क्षमता होती है। इसकी कठोरता बढ़ाने के Heat Treatment किया जाता है।

tool Steel kitne Prakar ke hote hai
Tool Steel

Tool Steel के कई ग्रेडों को संक्षारण प्रतिरोधी बनाने के लिए वेनेडियम स्टील को जोड़ा जाता है और इस स्टील के कुछ ग्रेडों में टूटने की संभावना कम करने के लिए पानी में क्वैंचिंग प्रक्रिया (Quenching Process) से मैंगनीज को कम किया जाता है। जिन टूल स्टील से बने उपकरणों में मैंगनीज कम नहीं करना होता है, उसको तेल में क्वैंच (Quench) किया जाता है।

टूल स्टील के ग्रेड्स (Grades of Tool Steel)

टूल स्टील को Six Grades में बांटा गया है, जो कि निम्न प्रकार से हैं-

1.Air Hardening (A-Grades)

इस ग्रेड्स की स्टील्स में मशीनेबिलिटी, टफनेस व वियर रजिस्टेंस आदि गुण होते हैं। जिससे हाई क्रोमियम सामग्री उन्हें heat treatment के दौरान कम विरूपण होने देती है।

अनुप्रयोगों में आर्बर, ब्लैंकिंग, कॉइनिंग, डाई बेंडिंग, कोल्ड फॉर्मिंग, कोल्ड स्वेजिंग, लेमिनेशन, चिपर नाइफ, गेज, कोल्ड शीयर नाइफ और लेथ नाइफ शामिल हैं।

2.D Type (D-Grades)

इस ग्रेड्स के स्टील घर्षण प्रतिरोध के लिए तैयार किए गए हैं। यह स्टील Air-Harded हैं और उनके अनुप्रयोगों में फोर्जिंग और ड्राइंग डाई शामिल हैं।

3.Hot-Working (H-Grades)

H – Grades Steels का उपयोग उच्च तापमान (High Temperature) पर किया जाता है। यह Carbon में कम और अतिरिक्त मिश्र धातुओं में उच्च शक्ति और कठोरता को जोड़ते हैं। उच्च तापमान के लिए विस्तारित जोखिम के लिए डिज़ाइन किया गया, इसके अनुप्रयोगों में डाई कास्टिंग कोर और डाई, मैग्नीशियम और एल्यूमीनियम के लिए गर्म एक्सट्रूज़न, हॉट फोर्जिंग, हॉट स्वेजिंग, हॉट ग्रिपर, हॉट ट्रिमिंग, हॉट एक्सट्रूज़न और हॉट शीयर चाकू शामिल हैं।

4.Oil Hardening (O-Grades)

यह एक general purpose उपकरण स्टील हैं। इस ग्रेड्स की स्टील तेल बुझाना चाहिए। घर्षण और Toughness के प्रतिरोध के कारण, स्टील का उपयोग अनुप्रयोगों की एक विस्तृत श्रृंखला के लिए किया जाता है।

अनुप्रयोगों में आर्बर्स, थ्रेड कटिंग, कोलेट्स, कोल्ड ट्रिमिंग, डाई ब्लैंकिंग, ड्रिल बुशिंग, कोल्ड फॉर्मिंग, गेज, नर्लिंग टूल्स शामिल हैं।

5.Shock resisting types (S-Grades)

इन ग्रेड्स स्टील्स में कम कार्बन होती है, इसलिए इनमें उच्च प्रभाव टफनैस होती है लेकिन घर्षण का अच्छी तरह से विरोध नहीं करते हैं। उनका उपयोग झटके को झेलने के लिए किया जाता है।

अनुप्रयोगों में छेनी लोहार, बैटरिंग टूल्स टूल्स, छेनी वर्किंग, चक जॉ, क्लच पार्ट्स, कोलेट्स ग्रिपर, कोल्ड एंड हॉट शीर्स, हॉट स्वैगिंग, हॉट ट्रिमिंग और चिपर चाकू शामिल हैं।

6.Water Hardening (W-Grades)

इस ग्रेड्स के स्टील उच्च कार्बन स्टील हैं। इनका उपयोग उच्च तापमान (High Temperature) पर नहीं किया जा सकता है। इसकी कम लागत के कारण यह ग्रेड सबसे आम (normal) हैं।

इन्हें बहुत कठोर (Hard) बनाया जा सकता है, लेकिन अन्य उपकरण स्टील्स की तुलना में अधिक भंगुर (Britliness) होते हैं। इन्हें पानी से बुझाना चाहिए।

अनुप्रयोगों में राइमर, कोल्ड हेडिंग, कटलरी, कटिंग चाकू और उपकरण शामिल हैं।

दोस्तों, यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो कमेंट व शेयर करें और हमसे जुड़ने के लिए टेलीग्राम चैनल (Telegram Channel) इंस्टाग्राम (Instagram) ज्वॉइन करें।

Also Read- स्टील क्या है? स्टील के प्रकार

Leave a Reply

Your email address will not be published.