1. Home
  2. /
  3. Machinist
  4. /
  5. रोलर बियरिंग से क्या तात्पर्य है?

रोलर बियरिंग से क्या तात्पर्य है?

दोस्तों, मैंने इस पोस्ट में रोलर बियरिंग (Roller Bearing) के बारे में बताया है, व इसके प्रकार के साथ उपयोग का भी वर्णन किया है, यदि आप जानकारी पाना चाहते हो तो पोस्ट को पूरा पढ़िए। तो चलिए शुरू करते हैं-

रोलर बियरिंग (Roller Bearing) से क्या तात्पर्य है?

यह बियरिंग बॉल बियरिंग के समान होते हैं, इसमें और बॉल बियरिंग में सिर्फ रोलिंग एलीमेंट का अंतर होता है।
बॉल बियरिंग में गोलियों (balls) को उपयोग किया जाता है और इसमें गोलियों के स्थान पर रोलर (roller) का उपयोग किया जाता है।

Roller Bearing
Roller Bearing

बियरिंग में रोलर के लिए खांचा केवल इनर रेस में बना होता है और आउटर रेस समतल बनाया जाता है। रोलर बियरिंग में रोलर का दोनों रेस (आउटर व इनर) के साथ लाइन कॉन्टैक्ट (Line Contact) होता है।
रोलर बियरिंग में कॉन्टैक्ट एरिया बहुत कम होता है। इसलिए इन बियरिंग में घर्षण भी कम होता है।

iti online mock test

रोलर बियरिंग के प्रकार (Types of Roller Bearing)

यह निम्न प्रकार से हैं-

1.बेलनाकार रोलर बियरिंग

इस प्रकार के बियरिंग के रोलर बेलनाकार व प्लेन होते हैं। इसकी भार सहन करने की क्षमता अधिक होती है।

2.बैरल रोलर बियरिंग

इस प्रकार के बियरिंग के रोलर ड्रम के आकार के होते हैं, इनका व्यास पूरी लम्बाई में असमान होता है।
यह बियरिंग सैल्फ अलाइनमेण्ट रोलर बियरिंग होता है, इसलिए इसको फिटिंग करने में किसी भी प्रकार की कठिनाईयों का सामना नहीं करना पड़ता है।

3.टेपर रोलर बियरिंग

इसके बारे में तो आप नाम से ही समझ गए होगे। इन बियरिंग में उपयोग होने वाले रोलर टेपर में बने होते हैं। इनका व्यास एक सिरे पर अधिक व दूसरे सिरे पर कम होता है।

Taper Roller Bearing
Taper Roller Bearing

इन बियरिंग का उपयोग अधिक स्पीड व भारी कार्यों के लिए किया जाता है। इसके अलावा इसका उपयोग ऐसे स्थानों पर किया जाता है, जहां पर अक्षीय थ्रस्ट का मान रेडियल लोड की अपेक्षा अधिक होता है।

More Information:- बॉल बियरिंग का उपयोग

4.नीडिल रोलर बियरिंग

यह बियरिंग बहुत अधिक भार पर उपयोग किए जाते हैं, इन बियरिंगों के नीडिल रोलरों का व्यास 2 मिमी से 10 मिमी तक रखा जाता है और इनके रोलरों की लम्बाई व्यास से 5 से 10 गुना अधिक रखा जाता है।

इस बियरिंग के के रोलर बॉल केज व बॉल केज के बिना दोनों रेसों के बीच रहते हैं।

5.स्फेरिकल बियरिंग

इन बियरिंग में रोलर, बॉल केज के अन्दर इस प्रकार फिट किए जाते हैं कि वह इनर रेस सहित आउटर रेस में कोणीय विचलन होने पर पूरी क्षमता से पावर को ट्रांसफर कर सकें।

Spherical Bearing
Spherical Roller Bearing

उपयोग:- इसका उपयोग ऐसे स्थानों पर किया जाता है, जहां पर शाफ्ट में कोणीय विचलन होने की अधिक संभावना होती है।

दोस्तों, यदि आपको रोलर बियरिंग पोस्ट अच्छी लगी हो तो कमेंट करके बताएं।

Telegram पर जुड़ने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें:-

CLICK HERE:- Telegram Group

7 thoughts on “रोलर बियरिंग से क्या तात्पर्य है?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Copyright © 2019 -2023 All Rights Reserved iticourse.com